कैसे लंड के टोपे को बड़ा करें

About Dr. Nagender Kumar

Urologist, Sex counselor

कैसे अपने लंड को बड़ा बनायें? पुरुष अकसर इस सवाल को पूछते हैं. चाहे उनके लंड का आकार कितना भी बड़ा क्यों न हो, फिर भी कम से कम एक बार अपने लंड को और बड़ा करने का ख्याल ज़रूर आ जाता है.

पृथ्वी के आधे से ज्यादा मर्द अपने लिंग के प्राकृतिक ढ़ंग से प्राप्त आकार से संतुष्ट नहीं है, और परिणामस्वरूप, लिंग के आकार को बढ़ाने के लिए उपलब्ध तरीकों की तलाश करते रहते हैं. क्या इस नाजुक मुद्दे को बिना किसी शल्य चिकित्सा के सही किया जा सकता है और क्या यह जरूरी भी है?

आकार सच में महत्त्वपूर्ण है

अध्ययनों से पता चला है कि पुरुषों के जननांग आदि आपकी राष्ट्रीयता एवं प्रजाति के आधार पर भिन्न हो सकते हैं. निम्न मापों को दुनिया भर में औसत और सामान्य माना जाता है:

  • लिंग की लंबाई: १४ सेमी;
  • लिंग के टोपे का आकार: ४ सेमी

लंड को नापने का कार्य तभी करना चाहिए जब आपका लंड खड़ा हो. किसी भी परिवर्तन के बारे में सोचने से पहले अपने लिंग के आकार को जान लेना बहुत आवश्यक है. एक बड़ा लिंग या लिंग का बड़ा टोपा गर्व की बात होने के बजाय सामान्य यौन संभोग में एक गंभीर बाधा बन सकती है. यदि आपका लिंग बहुत बड़ा है, तो आपके साथी को सेक्स के दौरान असुविधा और दर्द का भी अनुभव हो सकता है.

हालांकि, कुछ गिने चुने भाग्यशाली पुरुष ही मर्दानगी के धनी होते हैं जिनका लंड सामान्य से अधिक बड़ा होता है, ज्यादातर पुरुष बड़े लंड से लाभान्वित होते हैं. इससे न केवल उनके यौन जीवन में सुधार आता है, बल्कि उनकी असुरक्षायें और मनोवैज्ञानिक असुविधायें भी दूर होती हैं.

वास्तव में, छोटे जननांग से कोई भी व्यक्ति अपनी मर्दानगी पर शक करने लगता है जिससे उसके और उसके साथी के बीच एक दरार आ जाती है, जिससे उसके जीवन के सभी पहलुओ जैसे पारस्परिक संबंधों, करियर आदि क्षेत्रों पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है.

इस तरह के लोगों को अकसर मनोवैज्ञानिक मदद की आवश्यकता होती है. ऐसी स्थिति में यह सलाह दी जाती है कि चिंता के कारण- बचपन के मनोवैज्ञानिक आघात और असुरक्षा को समाप्त करने के लिए एक विशेषज्ञ से परामर्श अवश्य लें. यदि आप अपने दिमाग से समस्यायें नहीं निकाल सकते हैं, तो फिर चाहे आपको दुनिया का सबसे बड़ा लंड भी मिल जाये तो भी आपकी ख़ुशी में इजाफा नहीं होगा, आपको २० सेमी. लम्बा लंड भी रास नहीं आएगा.

लंड के टोपे को कैसे बड़ा किया जाये

कुछ पुरुष अपने लिंग की लंबाई से संतुष्ट होते हैं, लेकिन वे अपने लंड के टोपे को बड़ा करना चाहते हैं. इसके बारे में एक राय भी है कि लंड का बड़ा टोपा चुदाई में एक अहम भूमिका अदा करता है. इसलिए निष्कर्ष यही निकलता है कि लंड का बड़ा टोपा भी अपने आप में चुदाई के मज़े के लिए पर्याप्त है और पूरे लंड के आकार को बढ़ाने की कोई ख़ास आवश्यकता नहीं है.

लेकिन इस दृष्टिकोण को सही नहीं कहा जा सकता है. आखिरकार, जब बात चुदाई की होती है तो लंड के सबसे महत्वपूर्ण भाग की पहचान करना असंभव ही होता है. इसके अलावा, लंड के टोपे में वृद्धि आमतौर पर लंड की लम्बाई बढ़ने के साथ में ही होती है. अगर आपको केवल लंड के टोपे के आकार को बढ़ाना है तो एकमात्र सर्जरी से ही यह संभव है. बाकि सभी अन्य तरीकों से पूरे लंड की लम्बाई ही बढती है.

तो एक बार आप यह सुनिश्चित कर लें कि आपको केवल लंड के टोपे के आकार को बढ़ाना है या फिर पूरे लंड के आकार को बढ़ाना है, उसके बाद इनसे सम्बंधित आधुनिक चिकित्सा पद्धतियों के बारे में अधिक जानना श्रेयस्कर होगा. वर्तमान में, निम्नलिखित ज्ञात तरीके मौज़ूद हैं:

  • शल्य चिकित्सा से सहायता;
  • हार्मोनल उपचार;
  • विशेष व्यायाम
  • मालिश करने वाले उपकरण और कुछ विशेष उपकरण

अपने लिए सबसे अच्छे विकल्प को जानने के लिए किसी एक विशेषज्ञ से परामर्श करें. किसी डॉक्टर से परामर्श करने के बाद, यह स्पष्ट हो जाता है कि क्या लिंग वृद्धि आपके आवश्यक है और किस-किस पद्धति का आपके शरीर पर कैसा-कैसा प्रभाव पड़ेगा.

लंड के टोपे को सर्जरी से बड़ा करने के उपाय

सर्जरी का विकल्प उन मरीजों के लिए होता है जिनके लंड का टोपा बहुत ज्यादा ही छोटा होता है, और जिनके लिए इसका कुछ सेंटीमीटर बढ़ाया जाना अतिआवश्यक होता है. एक सर्जन से परामर्श करने के बाद, रोगी को कई निरीक्षण करवाने होंगे और एक पूर्ण चिकित्सा परीक्षा से गुज़रना होगा, यह प्रक्रिया किसी भी अन्य सर्जरी के पहले की जाने वाली प्रक्रिया के जैसी ही होगी. इस प्रक्रिया में प्रयोग की जाने वाली पद्धति पर हर व्यक्ति से व्यक्तिगत रूप से चर्चा की जाती है.

सर्जन लंड की त्वचा पर एक ख़ास मैट्रिक्स स्थापित करता है, इसे लंड के टोपे और रंध्रमय भाग के बीच में लगाया जाता है. यह डिवाइस एक छोटे तकिया के जैसी दिखती है. इसका मुख्य कार्य लिंग की त्वचा को खींचना होता है, जिससे आकार में वृद्धि होती है. यह विधि बहुत ही आम है, हालांकि इससे कुछ जटिलतायें भी आ सकती हैं.

मैट्रिक्स को अक्सर पेनाइल ऊतकों द्वारा खारिज कर दिया जाता है. जिससे पुरुष यौन अंग सूजने लगता है. यदि ऐसी स्थिति में तुरंत उपचार न शुरू किया जाये और मैट्रिक्स को तुरंत हटाया न जाये तो खतरनाक परिणाम हो सकते हैं. उपेक्षित मामलों में विशेष रूप से गैंग्रीन की समस्या हो सकती है और इसके चलते आपके लंड को काटना भी पड़ सकता है. मैट्रिक्स के साथ एक अन्य संभावित समस्या यह है कि लिंग की महत्वपूर्ण रक्त वाहिकाओं पर दबाव पड़ता है जिससे यह रक्त की आपूर्ति में व्यवधान व्यवधान उत्पन्न करता है और जब लंड खड़ा होता है उस समय सही से रक्त भर नहीं पाता है.

इसका एक वैकल्पिक समाधान भी है, जिसमें विशेष जेल युक्त हयालुरोनिक एसिड होता है, जो कि कॉस्मेटोलॉजी की शाखा में बहुत ही लोकप्रिय घटक है. यह जेल, मैट्रिक्स के समान ही काम करता है, हालांकि मैट्रिक्स की तुलना में इसके दुष्प्रभावों की संख्या बहुत ही कम है.

इस जेल के घटक मानव त्वचा की प्राकृतिक संरचना के समान ही होते हैं, जो वस्तुतः अस्वीकृति की संभावना को समाप्त कर देते हैं. ऊपर वर्णित दोनों ही तरीकों से लगभग तात्कालिक प्रभाव प्राप्त होता है. लंड के आकार में अंतर पहले दिन से ही स्पष्ट रूप से नज़र आने लगेगा.

लिंग के टोपे के आकर को बढ़ाने की एक अन्य विधि भी है जिसमें हार्मोनल ड्रग्स का सेवन करना पड़ता है. दुर्भाग्य से, इस विधि के फायदे की तुलना में नुकसान कहीं अधिक हैं. ऐसी दवाओं को किसी विशेषज्ञ के द्वारा, हार्मोनल स्क्रीनिंग के बाद ही सुझाया जा सकता है. इस उपचार में कुछ महीने लगते हैं, और परिणाम कम से कम २ महीने के बाद नज़र आने लगते हैं. ऐसी दवाएं बहुत महंगी होती हैं और इनके कई दुष्प्रभाव भी होते हैं. इस कारण से, लंड के टोपे को बढ़ाने का यह तरीका बहुत ही कम प्रयोग में लाया जाता है.

FREE Fast Shipping offer for our readers:

  • पहले और दूसरे सप्ताह में:
    कड़ापन लम्बे समय के लिए कठोर बन जाता है, लिंग की संवेदनशीलता २ गुना तक बढ़ जाती है. परिणाम नज़र आने लगते हैं – क्योंकि आपके लिंग का आकार १.५ सेमी. तक बढ़ चुका होता है.1
  • दूसरे और तीसरे सप्ताह में:
    पहले से आपके लिंग में आकार वृद्धि दर्शित होने लगती है, यह संरचनात्मक रूप से एकदम सटीक बन जाता है. सम्भोग का समय ७०% तक बढ़ जाता है!2
  • चौथे सप्ताह में और उससे आगे:
    लिंग ४ सेमी. तक बढ़ जाता है! सम्भोग का आनंद पहले से और भी अच्छा हो जाता है. ओर्गेज़्म लम्बे समय के होते हैं जो कि ५-७ मिनट तक चलते हैं!

BUY XTRA-MAN -50% DISCOUNT

घरेलू तरीकों से लंड के आकार को बढ़ा करें

यदि आपको अपने लंड में बहुत बड़े परिवर्तन नहीं करने हैं, तो आप लंड के आकार में इज़ाफ़ा के लिए घरेलू तरीकों को आज़मा सकते हैं. इनमें विशेष मालिश करने की तकनीकें और अभ्यास शामिल हैं.

लंड के आकार में इज़ाफ़ा के लिए पेनाइल एक्सटेंडर्स और वैक्यूम पंप सबसे लोकप्रिय उपकरण हैं. इन उपकरणों को खरीदने और प्रयोग में लाने से पहले किसी विशेषज्ञ से परामर्श अवश्य लें. इन उपकरणों से कोई भी गंभीर समस्या नहीं उत्पन्न होती है; हालांकि, इनके उपयोग के बारे में डॉक्टर से चर्चा करना आवश्यक है.

एक्सटेंडर लंड पर समान रूप से प्रभाव डालते हैं, जिससे पूरे यौनांग का क्रमिक विकास होता है. इसे घर पर, काम पर या कहीं भी पहना जा सकता है. इस डिवाइस को कपड़ों के नीचे आसानी से छिपाया जा सकता है, और इससे कोई बड़ी असुविधा भी नहीं होती है. प्रयोगकर्ता इसके असर को स्वयं नियंत्रित कर सकते हैं.

वैक्यूम पंप अलग ढंग से काम करता है.

• चुदाई के पहले लंड को एक विशेष सिलेंडर में रखा जाता है;
• हवा को सिलेंडर से बाहर निकालकर वैक्यूम बनाया जाता है;
• वैक्यूम से लिंग के रक्त के प्रवाह में वृद्धि होती है, जिससे यह बड़ा हो जाता है;
• एक रबर की अंगूठी को लिंग के नीचे पहना जाता है.

लिंग के लिए ख़ास रूप से तैयार किए गए विशेष जेल के साथ एक्सटेंडर्स और वैक्यूम पंपों का उपयोग करना सबसे अच्छा होता है.

लंड के आकर को बढ़ाने का शारीरिक व्यायाम एक अन्य सुरक्षित तरीका है.

जेलक्विंग सबसे लोकप्रिय तरीका है.

अपने लंड को नीचे पकड़कर लंड के टोपे की तरफ धीरे – धीरे ऊपर की तरफ दबाब डालें. इस प्रक्रिया का मुख्य लक्ष्य लंड के टोपे पर रक्त के प्रवाह को बढ़ाना और उसके ऊतकों को फैलाना है, जिससे इसका आकार बढ़ाता है. इस प्रक्रिया को लंड के आकार को बढ़ाने वाली विशेष क्रीम या जेल के माध्यम से करना सबसे अच्छा होता है. इस व्यायाम को हर दिन १० से १५ मिनट के लिए किया जाना चाहिए. इसका प्रभाव एक सप्ताह के बाद दिखाई देने लगेगा.

एक अन्य व्यायाम भी है जिसमे लंड को दबाया जाता है. अपनी हथेली से लंड को दबा लें और धीरे-धीरे दबाव बढ़ाएं, जब तक कि आपका लंड एकदम अच्छे से खड़ा न हो जाये. हथेली को ढीला कर दें जिससे आपका लंड शांत हो जाये और फिर से इस व्यायाम को दोहराएं. इस व्यायाम से लिंग के आकार और कड़ेपन दोनों में ही इज़ाफ़ा होगा.

अपनी जाँघों पर लंड को मारने से लंड के टोपे के आकार में इज़ाफा होगा. इस व्यायाम को बैठकर किया जाता है, जिसमे आपका लंड एकदम शांत होता है. दर्द या बेचैनी से बचने के लिए आराम से ध्यानपूर्वक इस व्यायाम को करें.

यह पुरुषों के स्वास्थ्य के लिए सुरक्षित है, हालांकि, जब तक आप व्यायाम नियमित तौर पर करते हैं तब तक ही इसका प्रभाव रहता है. सर्जरी से जल्दी और स्थायी रूप से लिंग का विस्तार होता है, लेकिन इस पद्धति के कई साइड इफेक्ट्स भी होते हैं. इसलिए, लंड के आकार को बढ़ाने के किसी भी विकल्प को चुनने के पहले सारे पहलुओं को भलीभांति जान लेना अतिआवश्यक है.

Xtra-man cream

BUY XTRA-MAN -50% DISCOUNT

Comments

(0 Comments)

Your email address will not be published. Required fields are marked *