बिस्तर में आसानी से २० मिनट या उससे भी अधिक समय तक कैसे चलें

About Dr. Nagender Kumar

Urologist, Sex counselor

आपकी चुदाई कितनी लम्बी चलती है?

यदि आप अपनी जानकारी साझा नहीं करना चाहते हैं, तो आंकड़े कुछ यूँ बतलाते हैं. औसत सेक्स का समय ५-७ मिनट का है, लेकिन ५०% लोग २ मिनट से भी कम समय में खत्म हो जाते हैं.

और जब आप पुरुषों को उनका नाम न उजागर करने की गारंटी दे देते हैं, तो वे इसे स्वीकार कर लेते हैं. “सामान्य रूप से चुदाई कितने समय तक चलती है” इस विषय पर हुए रेडिट पोल पर सबसे ज्यादा प्रतिक्रियायें १-२ मिनट की थी .

यह एक बहुत बड़ी समस्या है.

रिपोर्टों के अनुसार अच्छा सेक्स १० से २५ मिनट के बीच होता है, और ८०% लोग इस समय से पहले ही ठन्डे पड़ जाते हैं और कितना भी प्रयास कर लें आगे सेक्स नही कर पाते हैं.

पुरुष और महिलायें दोनों ही लंबे समय से यौन संबंध बनाना चाहते हैं, लेकिन पुरुषों में ऐसा करने के लिए यौन सहनशक्ति की कमी होती है.

मुझे भी बिल्कुल यही समस्या थी. मैंने इसे सुधारने के लिए सब कुछ आज़माया. आखिरकार, मुझे पता चला कि क्या कारगर है, लेकिन इस तथ्य तक पहुचना बहुत ही परेशान करने वाला था. इंटरनेट पर मिलने वाली सलाह बहुत ही भयानक है, और मुझे संदेह है कि इसमें से अधिकांश जानकारी को उन लोगों द्वारा लिखा गया है जिन्होंने इस समस्या का कभी ख़ुद ही सामना नहीं किया है.

जिसके चलते हम यहाँ पर बात कर रहे हैं. मैं वाइन के साथ इंटरनेट पर सेक्स के बारे में बात करने जा रहा हूँ. हम इस लेख में बहुत कुछ कवर करने जा रहे हैं, इसलिए नोट्स लेने के लिए तैयार रहें.

मैं एकदम शुरुआत से शुरू करूंगा: लंबे समय तक चलने के लिए मनोवैज्ञानिक कारक.

चरण दो में हम उन अभ्यासों पर बात करेंगे जिनकी मदद से आप लंबे समय तक चल सकते हैं.

अंत में, चरण तीन में हम उन बातों पर चर्चा करेंगे जिन्हें आप सेक्स करते हुए प्रयोग में ला सकते हैं और लम्बे समय तक चुदाई का मज़ा ले सकते हैं.

और इस प्रक्रिया में आपकी सहायता के लिए, सुनिश्चित करें कि आपने Stamena एप डाउनलोड कर लिया है जो आपकी लंबे समय तक चलने में मदद करेगा.

चरण १ : अपनी यौन चिंताओं को कम करें

यदि आप सेक्स में ऐसा सोचते हैं कि आप बहुत लंबे समय तक नहीं टिकेंगे, तो आप सच में कभी भी नहीं टिक पायेंगे. यदि अपनी यौन क्षमताओं के बारे में किसी भी प्रकार की चिंता करते हैं तो आप अपनी इच्छा से कहीं अधिक तेज़ी से अपना वीर्य स्खलित कर बैठेंगे.

और यदि आप इसे बायोलॉजिकल रूप से मानते हैं, तो भी यह बात समझ में आती है. असुरक्षा से आप चिंतित हो जाते हैं. आपका शरीर इस बात को बता सकता है कि आप चिंतित हैं. आपकी चिंता से आपके शरीर को पता चलता है कि आपके नग्न होने के लिए यह सुरक्षित वातावरण नहीं है और इससे होने वाले परिणामों से लड़ने के लिए या उनसे बचने के लिए आप तैयार नहीं है.

तो जब आप सेक्स के दौरान चिंतित होते हैं तो आपका शरीर क्या करता है? शरीर आपके वीर्य को जल्दी स्खलित कर देता है, या फिर आप कड़ेपन को सही से नहीं प्राप्त कर पाते हैं, जिससे शरीर को लगता है कि उसने असुरक्षित होने की भावना को कम समय में ही खत्म कर दिया.

इसका एकमात्र इलाज यही है कि आत्मविश्वास, सकारात्मक दृष्टिकोण से सेक्स करें और सोचें कि आप अच्छा प्रदर्शन करने वाले हैं.

ऐसा करने का सबसे अच्छा तरीका क्या है? इसके बारे में अपने साथी से बात करें.

यदि आप अपनी चिंताओं को लेकर अपने साथी के पास जाते हैं कि आप बहुत देर तक नहीं चल पा रहे हैं और इसे साथ में सुधारना चाहते हैं, तो आपकी साथी इसमें मदद ही करेगी. क्योंकि वे आपकी इस भावना को देखेंगी कि कैसे आप यौन जीवन को सुधारना चाहते हैं, और आप इस पर मिलकर काम करना चाहते हैं.

इसमें शर्मिंदगी महसूस करने जैसी कोई भी चीज़ नहीं है, और आप इस बात को महसूस करेंगे कि केवल इस बारे में बात करने से ही आपकी आधी समस्या हल हो गयी है.

कोई साथी नहीं है? फिर भी चिंता की बात नहीं है. आप बिना साथी के भी अभ्यास से कर सकते हैं.

चरण २ : लंबे समय तक चलने के लिए दैनिक व्यायाम

शीघ्र स्खलन को नियंत्रित करने के लिए आपको नियमित रूप से केवल दो चीजें करनी होती हैं: कीगल अभ्यास और हस्तमैथुन अभ्यास.

व्यायाम १: कीगल्स और रिवर्स कीगल्स (१० मिनट से कम / दिन)

यदि आप इस लेख में दिए गए विकल्पों में से कुछ और नहीं कर सकते हैं, तो इसे करें.

स्खलन नियंत्रण में सुधार करने का सबसे अच्छा तरीका है कि स्खलन को नियंत्रित करने वाली मांसपेशी को मजबूत किया जाए. बात में तो दम है ना? आप इसे कीगल अभ्यास, और रिवर्स कीगल्स के माध्यम से करते हैं, जो आपकी पेल्विक फ्लोर की मांसपेशियों को प्रशिक्षित करते हैं, ऐसे में जब आपका वीर्य स्खलित होने वाला होता है तो इसकी मदद से आपको नियंत्रण में सहायता मिलती है.

यदि आपने पहले कभी कीगल्स के बारे में नहीं सुना है, तो मैंने आपकी मदद करने के लिए पुरुषों के लिए कीगल्स अभ्यास और रिवर्स कीगल्स पर अधिक जानकारी वाला लेख लिखा है. लेकिन यदि आप इससे परिचित हैं तो आप नीचे दिए गए संक्षिप्त संस्करण से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

यहां मैं चाहता हूं कि आप यह करें:

  • १. नग्न हो जायें (विश्वास करें यह मजेदार होगा).
  • २. अपने अंडकोष के पीछे की और मलद्वार से पहले की त्वचा पर एक या दो उंगली रखें.

३. अब कल्पना करें कि आप अपने आप को पेशाब रोकने के लिए बोल रहे हैं. मांसपेशी को संकुचित करें. (यह वही मांसपेशी है जिससे आप अपने कड़े लिंग को “नृत्य” करवाते हैं. अब मेरी बातों के चलते ऐसा मुँह न बनायें, मुझे अच्छे से पता है कि आपने इसे किया है).

  • ४. आपको अपनी उँगलियों पर कुछ हलचल महसूस होगी, और आप इस हलचल को अपने लिंग और अंडकोष में भी महसूस कर सकते हैं.
  • ५. अपने नितम्ब को संकुचित न करें जैसे कि आप अपनी गांड को दिखाने की कोशिश कर रहे हैं, अपने पैरों को न सिकोड़ें, और अपने पेट को भी न सिकोड़ें. केवल उस एक मांसपेशी पर ही ध्यान केंद्रित करें.
  • ६. यदि वास्तव में आपको इसे खोजने में परेशानी हो रही है, तो पानी पियें, पेशाब करने के लिए जाएँ, और बीच में पेशाब को रोकने की कोशिश करें. आपको मांसपेशी मिल जायेगी.

इसे प्युबोकॉसिजियस मांसपेशी, पीसी मांसपेशी, या पेल्विक फ्लोर कहा जाता है, और यह मांसपेशी मूत्र के प्रवाह को नियंत्रित करने के साथ-साथ स्खलन को भी नियंत्रित कर सकती है.

इसे सुदृढ़ करने से आप लंबे समय तक टिके रहेंगे, और यहाँ तक कि “नों पॉइंट ऑफ़ रिटर्न” तक पहुंचने से भी खुद को रोक लेंगे जिसके फलस्वरूप आपको आपकी इच्छा के बिना ओर्गाज्म नहीं होगा.

इस मांसपेशी को प्रशिक्षित करने के लिए हम आपके लिंग पर थोडा वजन बांधने जा रहे हैं, उसके बाद आप लिंग को हिला कर इस वजन को उठाएंगे जिससे आपका लिंग प्रशिक्षित होगा.

ठीक है, ठीक है मैं तो बस मजाक कर रहा हूँ, यह उससे बहुत ही आसान है.

आपको अपनी पेल्विक फ्लोर मसल्स को प्रशिक्षित करने के लिए बस “कीगल अभ्यास” करना है जिसमें इसे बार-बार संकुचित किया जाता है और “रिवर्स कीगल अभ्यास” में इसे बार-बार बाहर की तरफ़ धकेला जाता है.

लेकिन, किसी भी अन्य मांसपेशी की तरह, आप एक ही चीज़ को बार-बार करते हुए यह उम्मीद नहीं कर सकते हैं कि इससे मांसपेशी अधिक मजबूत हो जाएगी. मजबूती को पाने के लिए आपको कठिनाई को बढ़ाना होगा.

ऐसा करने का सबसे अच्छा तरीका ” स्टैमेना ” एप का उपयोग करना है जो आपको विशिष्ट दिशा-निर्देश देता है कि कितने समय तक चिपकाना है और फिर वापस धक्का देना है, और इसे किस अलग-अलग गति से करना है आदि. यदि आप एंड्रॉइड को प्रयोग करते हैं, तो आप कीगल ट्रेनर का उपयोग कर सकते हैं.

जैसे-जैसे आप इसे अधिक करते हैं, वैसे-वैसे एप में “लेवल अप” हो जाता जिससे आपको और लंबे समय तक और अधिक पुनरावृत्ति के साथ इस अभ्यास को करना होता है. जब आप ८+ स्तर को पार कर लेगें उस समय आपको अपने यौन जीवन में काफ़ी सुधार दिखने शुरू हो जायेंगे.

मुझे लगता है कि इससे टिंडर पर आपकी व्यस्तता बहुत बढ़ जाएगी.

मैंने एप में एक रिमाइंडर सेट किया जो दिन में ३ बार मुझे अभ्यास की याद दिला देता है जिससे कहीं मैं इस अभ्यास के बारे में भूल न जाऊं. आपको इतनी ज्यादा बार करने की ज़रूरत नहीं है, दिन में एक बार भी ठीक है, लेकिन दिन में २ से ३ बार करने पर आपको अपना मुकाम जल्दी हासिल हो जायेगा.

एक बार जब आप २०+ स्तर तक पहुंच जाते हैं उसके बाद आप इसमें कटौती कर सकते हैं और इसे बस कभी-कभी अभ्यास के लिए करते रह सकते हैं. लेकिन किसी भी मांसपेशी की तरह, जब आप इसका इस्तेमाल करना बंद कर देते हैं तो आप कमजोर हो जाएंगे. इसलिए प्रशिक्षण को बरक़रार रखें.

व्यायाम २: हस्तमैथुन और एजिंग (१०-३० मिनट / दिन)

यदि आप लंबे समय तक टिके रहना चाहते हैं, तो आपको अलग तरह से हस्तमैथुन करना होगा.

बहुत से लोग जिन्हें लंबे समय तक टिके रहने में दिक्कत होती है, वे खुद को हस्तमैथुन जैसी बुरी आदतों में डाल लेते हैं.

यदि आप आम तौर पर बहुत हड़बड़ी करते हैं, और अपने लंड को रगड़ कर रख देते हैं और कोशिश करते हैं कि जितनी जल्दी हो सके उतनी जल्दी आपका पानी निकल जाए तो ऐसी स्थिति में आप असली सेक्स में भी कभी सही से नहीं टिक पायेंगे.

हस्तमैथुन के लिए आपका नया नियम: १० मिनट से कम नहीं. मुझे इस बात की परवाह नहीं है कि उन १० मिनट में से ८ मिनट आपको बस अपने लंड को घूरते हुए बिताने होंगे, लेकिन कभी भी इसे १० मिनट से पहले न खत्म करें. एक बार जब आप १० मिनट के आदी हो जाते हैं तो इसे १५ मिनट और फिर २० मिनट तक लेकर जाएँ.

अब यह बात आती है कि उन १० मिनट के दौरान क्या करना चाहिए.

जब कोई लड़का बिस्तर में बहुत देर तक नहीं टिकता है, तो ऐसा इसलिए होता है क्योंकि उसका “प्लेजर ग्राफ” कुछ ऐसा दिख रहा होता है:

बहुत ही जल्दी सीधे वीर्य स्खलन. लंबे समय तक टिके रहने के लिए, आपको आप अपने “प्लेजर ग्राफ” को कुछ इस तरह से बनाना होगा और उसके लिए आपको ख़ुद को प्रशिक्षित करना होगा:

इसे “एजिंग” के माध्यम से किया जाता है, जिसे आप बाद में सेक्स के दौरान करेंगे लेकिन इसे हस्तमैथुन में भी शामिल किया जाना चाहिए.

यह कुछ ऐसे काम करता है:

  • १. हस्तमैथुन करना शुरू करें, और उत्तेजना के १० के पैमाने पर ७ तक स्वयं को लेकर जाएँ. (आपको खुद ही यह तय करना होगा कि यह आपके लिए क्या है, अभ्यास के साथ इस पैमाने को पहचानना आसान होगा).
  • २. रुकें, और उत्तेजना को ५ तक आने दें.
  • ३. अब फिर से ८ तक जाएँ, फिर से रुकें और खुद को ६ तक ले जाएँ
  • ४. ९ तक जाएँ, फिर ७ तक नीचे आयें
  • ५. ९.५ तक, फिर से ७ तक नीचे आयें. ९.५ ऐसा बिंदु है जहाँ से वापस आना संभव नहीं होता है, इसलिए एक बार जब आप ९.५ के पार पहुँच जाते हैं उसके बाद आप कुछ भी नहीं कर सकते हैं.
  • ६. १० मिनट तक ९.५ से ७ तक आने की प्रक्रिया को दोहरायें. उसके बाद अपने आप को खुला छोड़ सकते हैं, और आपको अहसास होगा कि इस प्रक्रिया के बाद जो ओर्गाज्म हुआ है वह बहुत ही ताक़तवर था.

जैसे – जैसे आप अधिक उत्तेजित हो रहे हैं, वैसे ही उत्तेजना को कम करने के लिए STAB तकनीक को याद रखें :

  • स्कवीज़ : अपने पीसी मसल्स को बहुत तेज़ी से संकुचित करें जैसे कि आप बहुत ही तीव्र कीगल कर रहे हैं. इस स्थिति को १० सेकंड तक बनाए रखें, लेकिन जितना अधिक आप रोक सकते हैं उतना ही यह फायदेमंद होगा. (आप कुछ कम देर की ५-सेकंड की पकड़ भी कर सकते हैं, या फिर त्वरित १-सेकेंड की कई पकड़ भी कर सकते हैं)
  • सोचें : किसी अन्य चीज के बारे में सोचें
  • बचें : पूरी तरह से सेक्स को रोकने के बजाय अपने स्ट्रोक को बदलते रहें (हेड से बचें)
  • सांस लें : गहरी, डायफ़्राम-विषयक (अपने पेट से) सांस लें

अच्छा तो यह होता है अगर आप इन सभी विधियों का एक साथ प्रयोग करते हैं तो आपको स्खलन को नियंत्रित करने में काफ़ी फ़ायदा होगा, लेकिन इसकी शुरुआत किसी एक तकनीक से करें और फिर जब एक तकनीक आपकी प्रकृति में शामिल हो जाये उसके बाद दूसरी तकनीक पर काम करें.

इस तरह के अभ्यासों के लिए रात में २० मिनट अलग से निकालें, क्योंकि जितना अधिक अभ्यास होगा तकनीकें उतनी ही अधिक बेहतर हो जाएँगी.

यदि आप इन अभ्यासों को किसी साथी के साथ करने वाले हैं तो आप उसे बताएं कि आप क्या करना चाहते हैं, उससे मदद करने के लिए कहें, मदद में आप मैन्युअल / मुंह से उत्तेजना का प्रयोग कर सकते हैं या फिर सेक्स को बहुत धीरे-धीरे करें जिसमे बार-बार रुकें और फिर से शुरुआत करें.

जब आप ९.५ के आस-पास के बिंदु पर होंगे उस समय आपका मन बहुत ही विचलित होगा कि ओर्गाज्म हो जाए, लेकिन मेरी बातों पर विश्वास करें, इस व्यायाम का आपको बहुत ही अच्छा फ़ल प्राप्त होगा.

इसके अलावा यह अलग तरह से बहुत ही मजेदार भी है.

चरण ३ : सेक्स के दौरान लंबे समय तक चलने के लिए तकनीकें

यदि आप अपना प्रशिक्षण सही से कर रहे हैं, तो आप निश्चित रूप से पहले से अधिक देर तक बिस्तर पर टिके रहेंगे.

लेकिन हम इसमें और भी सुधार कर सकते हैं. आगे दी गयी चार रणनीति निश्चित रूप से आपके लिए काफ़ी मददगार साबित होंगी, इनमें भी उन्ही सिद्धांतों का अनुप्रयोग होगा जिनका हस्तमैथुन के अभ्यास में प्रयोग हो रहा था.

स्ट्रेटेजिक फोरप्ले ऑर्डरिंग

फोरप्ले अक्सर इस क्रम में होता है, क्योंकि आम तौर पर महिलाएं पुरुषों से सेक्स के अगले चरण के शुरुआत की उम्मीद करती हैं:

चुंबन / कामुक तरह से छूना -> योनि को चाटना -> लिंग को अपने साथी के मुँह में डालना -> चुदाई

यद्यपि इसमें एक स्पष्ट समस्या होती है: आप सीधे उसके मुँह से अपना लंड निकाल कर चुदाई करते हैं, उस समय लिंग पहले से ही बहुत ही उत्तेजित होता है.

यह एकदम दिमाग का काम नहीं है. आपको सेक्स की शुरुआत ४ या ५ के बिन्दु पर करनी चाहिए न कि ८ पर.

आपको कुछ ऐसा करना चाहिए. आप पहले से ही अपने साथी से लंबे समय तक टिके रहने की बात कर रहे हैं (अगर आप यहाँ भी फेल हो जाते हैं तो लानत है आप पर), तो उसे बताएं कि अगर वह पहले आपका लंड चूस ले तो दोनों ही लोगों के लिए बेहतर होगा (इससे वह और अधिक गर्म हो जाएगी), इससे पहले वह आपका लंड चूसेगी और फिर आप उसकी चूत को चाटेंगे.

चुंबन / कामुक तरह से छूना -> लिंग को अपने साथी के मुँह में डालना -> योनि को चाटना -> चुदाई

जब आपका लंड चूसा जा रहा है, तो उस समय जैसे ही आप ९.५ के आस पास एक दो बार जाएँ (एजिंग तकनीक की तरह ही इसमें आपको अपने साथी से बस रुकने के लिए कहना है), उसके बाद आप अपने किरदार परिवर्तित कर लें और आप उसकी चूत चाटना शुरू कर दें ताकि आपकी उत्तेजना ठंडी हो सके और आपकी साथी भी गर्म हो जाए.

साथ ही, जब वह आपका लंड चूस रही हो तो उससे पीसी मसल्स के खिलाफ धक्का देने के लिए कहें (दो या तीन अंगुलियां या मुट्ठी अच्छी तरह से काम करती है). इससे आप लंबे समय तक टिके रहते हैं और आपको भी बहुत अच्छा लगेगा, लेकिन वास्तविक सेक्स के दौरान इसे कर पाना मुश्किल होता है.

फिर, एक बार जब आप पर्याप्त बार चरमोत्कर्ष के पास जाकर वापस लौट आये हैं, उसके बाद धीरे-धीरे अपनी उत्तेजना करें, और उसकी चूत को चाटें, आपकी यही प्रक्रियाएं निर्धारित करेंगी कि आप बिस्तर में कितनी देर तक टिके रहेंगे.

वैकल्पिक रूप से, एक बार ओर्गाज्म होने के बाद आपके शरीर को रिचार्ज होने में कितना समय लगता है उसके आधार पर जब आपकी साथी आपको फिर से नीचे उत्तेजना देने के लिए जा रही हो उस समय आप अपने आपको दूसरे राउंड (जो पहले राउंड से लंबे समय तक चलता है) के लिए तैयार कर सकते हैं. लेकिन यह पूरी तरह से आप पर निर्भर करता है.


एजिंग के लिए सेक्स पोजीशनों का प्रयोग करें

फोरप्ले के दौरान एजिंग करना आसान होता है, लेकिन सेक्स के दौरान यह थोड़ा अलग होता है. आप बार-बार झटका मारना शुरू और बंद नहीं कर सकते हैं क्योंकि यह आपके साथी के लिए निराशाजनक होगा, और इससे आप जल्द ही स्खलन के बारे में चिंतित भी बने रहेंगे.

इसके बजाय, सेक्स के दौरान आप अपनी पोजीशन को बदलकर एजिंग कर सकते हैं.

कुछ पोजीशन में आपकी उत्तेजना तेजी से बढ़ेगी. वहीँ कुछ पोजीशन में यह धीमी रहेगी. यह एक ख़ास संयोजन है:

  • १. घर्षण (अधिक = तेज)
  • २. गति की दिशा (झटके = तेज, आगे और पीछे = धीमे)
  • ३. नियंत्रण (अपनी गति = तेज़, उसकी गति = धीमी)
  • ४. आपकी पोजीशन (खड़े कर = धीरे, आपकी बाहों से सहारा देते हुए (जैसे मिशनरी) = सबसे तेज़)

ऐसी स्थिति जिसमे आपके साथी के पैर कसे हुए हों (अधिक घर्षण) उस समय आप लेटकर झटके मार रहे हों (जैसे मिशनरी) उसमे उच्च उत्तेजना होगी और आप जल्दी ठन्डे पड़ जायेंगे.

लेकिन अगर उसके पैर फैले हुए हैं और आप खड़े हो गए या घुटने टेक कर सेक्स कर रहे हैं तो ऐसे में कम उत्तेजना होगी. बिलकुल ऐसा तब भी होता है जब वो आपके ऊपर होती है और ऊपर-नीचे करने की बजाय आगे-पीछे करती है.

(यदि आप सुनिश्चित नहीं हैं कि “आगे और पीछे” (बनाम “झटके”) से मेरा क्या मतलब है तो इसे… समझने का यही एकमात्र तरीका है (एकांत में खोलें).)

आपको अपनी “कम उत्तेजना” वाली और “उच्च उत्तेजना” पोजीशन को ढूंढना होगा. जब आप ५ या ६ पर हों तो उच्च उत्तेजना वाली पोजीशन को आज़माएं, जब आप ८ या ९ पर पहुँच जाएँ तो फिर कम उत्तेजना वाली पोजीशन को आजमायें.

और जिस समय आप पोजीशन बदल रहे हों, उस समय अपनी पीसी मांसपेशियों को कुछ सेकंड के लिए संकुचित कर लें!

आपके डायाफ्राम से धीरे-धीरे सांस लें

आप जिस तरह से सांस लेते हैं, तो सांस लेने की यह प्रक्रिया आपके स्खलन को भी प्रभावित करती है.

आपने यह तो सुना ही होगा कि कैसे आप खुद ही मुस्कुराकर खुद को खुश बनाकर धोखा दे सकते हैं, हैं ना? ठीक वैसे ही आप अपनी साँसों को परिवर्तित करके खुद को कम या ज्यादा उत्तेजित कर सकते हैं.

यदि आप कम उत्तेजित और कम चिंतित होना चाहते हैं, तो अपनी सांस को धीमा करें और सुनिश्चित करें कि आप अपने डायफ्राम से पेट तक गहरी सांस ले रहे हैं. अपने कंधों और छाती में त्वरित सांस भरने का काम तब करें जब आप स्खलन करना चाहते हैं, इसलिए यदि आप ऐसा करते हैं, तो आपके शरीर को लगता है कि आप चरमोत्कर्ष के पास ही हैं.

आप ऐसे सांस लें जैसे सब कुछ ठीक है और बाकी सब अपने आप ठीक हो जाएगा.

आख़िरी क्षण पर स्कवीज़ करना जब आप चरमोत्कर्ष के एकदम करीब होते हैं

पहली तीन युक्तियों की मदद से आप ५-९ की रेंज में खुद को आसानी से रख पायेंगे. लेकिन जब आप ९.९ तक पहुंचते हैं तो क्या होता है और क्या स्खलन को रोकने का कोई तरीका है?

यही वह प्रशिक्षण है जिसके लिए आपने अपनी पीसी मसल्स को ट्रेन किया है.

मान लीजिए कि आपने अपनी पीसी मसल्स को काफी मजबूत बना लिया है, ऐसे में आपको “नों पॉइंट ऑफ़ रिटर्न” से खुद को वापस लाने के लिए बस इतना करना है कि झटके मारना बंद कर दें और फिर तीव्र कीगल पकड़ को बनायें (या फ़िर अगर आप थोड़ी-थोड़ी देर वाली कीगल पकड़ में खुद को ज्यादा सुकून में महसूस करते हैं तो उनका ही प्रयोग करें).

जितना अधिक आप संकुचित करेंगे उतनी ही आपकी उत्तेजना नीचे आ जाएंगी. अभ्यास की मदद से, आप कुछ ही सेकंड में ९.९ से ६ या ७ तक खुद को ले सकते हैं, और अपने सेक्स में ~५ मिनट जोड़ सकते हैं.

मुद्दे की बात एक और यह है कि जब आपका वीर्य स्खलन होने वाला होता है यह तकनीक तभी अच्छा काम करती है, ऐसे में शुरुआत में अभ्यास में कुछ मिस्फायर भी हो सकते हैं. लेकिन जैसे-जैसे अभ्यास होगा, और आप सही समय पर स्कवीज़ करने लगेंगे, आप पहले से बेहतर और बेहतर होते जाएंगे.

अन्य स्कवीज़ तकनीक के बारे में क्या राय है? जिसमे आप अपने लिंग के टोपे या शाफ्ट को पकड़ते हैं और रक्त प्रवाह को बीच में ही बाधित कर देते हैं और उत्तेजना को कम कर लेते हैं? आप इसका भी उपयोग कर सकते हैं, लेकिन यह अधिक बाधा उत्पन्न करता है और इस बात पर तर्क करना भी मुश्किल है कि यह आपके लिए अच्छा है या नहीं. इसलिए पहले कीगल स्कवीज़ को आजमायें.

आगे बढ़ें…

यह इतना ही है. पहला मनोवैज्ञानिक परिवर्तन, दूसरा अपने आप को यौन समबन्धों में अच्छा रखने वाले व्यायाम, तीसरा अपनी उत्तेजना को नियंत्रित करने के लिए तकनीकें, और फिर अंतिम सेकंड में अपनी उत्तेजना को नीचे लाने के लिए स्कवीज़ का प्रयोग. शीघ्र स्खलन को नियंत्रित करने और अच्छे यौन संबंध को बनाने के लिए आपको केवल इन्ही चीज़ों की आवश्यकता होती है.

यह सिर्फ निष्पादन का मामला है. अभ्यास करें, अपने साथी से खुल कर चर्चा करें कि आप किस पर काम कर रहे हैं, और एक महीने से भी कम समय में आपको परिणाम दिखाई पड़ने लगेंगे.

आखिरी बात यह है कि यह इस श्रृंखला का पहला लेख है. इस श्रृंखला में अगला लेख इस बारे में है कि एक आदमी के रूप में बिना स्खलन के कई ओर्गाज्म कैसे प्राप्त करें; तब तक मजा करें!3

हमारे पाठकों के लिए फास्ट शिपिंग ऑफर:

  • पहला-दूसरा हफ्ता:
  • आपका खड़ापन लंबे समय तक चलेगा और उसकी सख्ती भी बढ़ जाएगी लिंग की संवेदना दो गुना बढ़ जाएगी पहले बदलाव लिंग की लंबाई 1.5 सेमी बढ़ जाने के साथ दिखेंगे1
  • दूसरा-तीसरा हफ़्ता:
  • आपका लिंग बड़ा दिखने लगेगा और उसका शेप भी सटीक हो जाएगा संभोग की अवधि 70% बढ़ जाएगी!
  • चौथा हफ्ता और इसके बाद:
  • आपका लिंग 4 सेमी लंबा हो जाएगा! सेक्स की गुणवत्ता काफी अच्छी हो जाएगी और संभोग में चरम सुख जल्दी मिलेगा तथा 5-7 मिनट तक चलेगा!

Comments

(0 Comments)

Your email address will not be published. Required fields are marked *