संभोग की अवधि को (बहुत) लंबा करने के 15 आसान तरीके

About Dr. Nagender Kumar

Urologist, Sex counselor

संभोग सुख को बढ़ाने के लिए बिस्तर में (और उसके बाहर) क्या करना है।

द न्यू नेकड: द अल्टीमेट सेक्स एजुकेशन फॉर ग्रोनअप्स (The New NakedThe Ultimate Sex Education for Grownups) के लेखक डॉ० हैरी फिश के मुताबिक आश्चर्यजनक रूप से लगभग 45 प्रतिशत पुरुष सेक्स के दौरान दो मिनट या उससे कम समय में ही कामोन्माद के शिखर पर पहुँच जाते हैं। इस तथ्य को जब हम इस सच्चाई से मिलाकर देखते हैं कि अधिकांश महिलाओं को कामोन्माद प्राप्त करने में लगभग 15 मिनट से भी अधिक की यौन उत्तेजना की आवश्यकता होती है, तो हम एक गंभीर रूप से असुविधाजनक सत्य से मुखातिब होते हैं।

सौभाग्य से, अपनी यौन प्रतिक्रिया पर नियंत्रण स्थापित करने के लिए आपके पास करने योग्य कई विकल्प हैं, जिनके माध्यम से अपनी संगिनी के दैनिक कामोन्माद के क्षणों के दौरान लगभग एक ही समय में आप नियमित रूप से कामोन्माद का अनुभव करने का एक बेहतर मौका पा सकते हैं- और इनमें से कोई भी विकल्प बेसबॉल (एक अच्छे नाप के लिंग) के बारे में दिवास्वप्न देखना नहीं है। बोनस: यदि आप वास्तव में अपनी यौन शक्ति को बढ़ाना चाहते हैं, तो योग की उन प्रक्रियाओं को आजमाएं जो आपको बेहतर संभोग देने की गारंटी देते हैं

कार्डियो पर कंजूसी न करें।

आपके सम्पूर्ण शरीर के स्वास्थ्य में सुधार करने से आपके लिंग पर इसका काफी अच्छा असर पड़ेगा और वह अपने सभी मजेदार क्रियाओं को बेहतर ढंग से करने में सक्षम हो जाएगा। एरोबिक्स, तैराकी, दौड़ना, या जॉगिंग जैसे कार्डियो व्यायाम आपके फेफड़ों को मजबूत कर सकते हैं और उनकी क्षमता को बढ़ा सकते हैं। स्वास्थ्य के बेहतर होने से आप संभोग के दौरान अपने साँसों को अच्छी तरह से नियंत्रित कर सकते हैं और समय-पूर्व स्खलन की संभावना को कम कर सकते हैं।

हालाँकि कार्डियो आपके चयापचय में भी सुधार लायेगा, जिससे आपके दिल, फेफड़ों, और सबसे महत्वपूर्ण रूप से लिंग में होने वाले खून के बहाव में काफी सुधार आएगा। व्यायाम को एंडोर्फिन (मस्तिष्क और तंत्रिका तंत्र के भीतर रिसने वाले हार्मोनों का एक समूह जो कई प्रकार के शारीरिक कार्यों को पूरा करते हैं। ये पेप्टाइड्स होते हैं जो शरीर के निद्राजनक रसों के अभिग्राहकों को सक्रिय कर देते हैं, जिससे पीड़ानाशक प्रभाव उत्पन्न होता है।) के रिसाव को प्रोत्साहित करने के साधन के रूप में भी देखा गया है, जो आपको तनाव मुक्त होने, शांत रहने और यौन संपर्क का आनंद लेने में मदद कर सकता है, जिससे आपके शीघ्रपतन की संभावना कम हो जाती है। अतिरिक्त अभिप्रेरण के लिए, 40 वर्ष से अधिक उम्र के पुरुषों के लिए 10 सर्वश्रेष्ठ कार्डियो व्यायाम यहां दिए गए हैं।

संभोग की अपनी पुरानी परिपाटी को छोड़ें।

रिश्तों की विशेषज्ञ और पारिवारिक चिकित्सक डॉ जेन ग्रीर कहती हैं कि नई-नई शारीरिक मुद्राओं और संवेदनाओं को आजमाने से अक्सर पुरुषों को बिस्तर पर लंबे समय तक सक्रिय बने रहने में मदद मिल सकती है। उनका तर्क निश्चित रूप से पावलोवियन (किसी खास स्थिति के प्रति मनोवृत्ति के एक विशेष ढंग से प्रतिक्रिया करने के लिए प्रशिक्षित हो जाने का सिद्धांत) है: ग्रीर का कहना है कि जब आप कुछ समय तक एक ही संगिनी के साथ उपभोग कर रहे होते हैं, तो सेक्स की नियमित मुद्राएँ आपके शरीर को कामोन्माद के शिखर पर पहुँच जाने का (झूठा) अनुमान करवाकर स्खलन की स्थिति ला सकती हैं। इन मुद्राओं या प्रसंगों को एक अलग क्रम में करने से संभोग को देर तक चालू रखने में मदद मिल सकती है। ग्रियर कहती हैं, “ये मुद्राएँ जितनी अधिक अजीब और अनोखी होंगी संभोग उतना ही बेहतर होगा।” इन मुद्राओं या प्रसंगों को बदलने के उपायों के बारे में जानने के लिए 60 सेक्स मुद्राएँ जो आपके यौन जीवन को उत्कृष्ट बनाने की गारंटी देती हैं, को देखें।

अपनी हद का पता लगाएं

कभी “edging” (एक ऐसा यौन अभ्यास जो किसी व्यक्ति को कामोन्माद में देरी करने में मदद करता है।) के बारे में सुना है? इसका मतलब है “वीर्यपात की अनिवार्यता की स्थिति” तक पहुँच जाना – कामोन्माद का वह शिखर जहां से फिर वापसी की कोई उम्मीद न हो – फिर कार्रवाई को पुनरारंभ करने से पहले एक-आध मिनट तक रुक जाना। आप शायद पहले से ही जानते हैं कि कामोन्माद की वह स्थिति कैसी लगती है जहां से वापसी की कोई उम्मीद न रह जाती हो। मुख्य बात यह जान लेना है कि उस स्थिति से पूर्व के पल में कैसा लगता है। जब आप सेक्स करते समय उस अनुभव को महसूस करते हैं, तो जो कोई भी क्रिया आपको उस अंतिम स्थिति के करीब आकर्षित कर रही हो उसे रोकें। कुछ ऐसा करें जिसमें आपके लिंग को शामिल न करना पड़े, जैसे मौखिक रूप से या आप अपनी संगिनी को किसी अन्य क्रिया द्वारा उत्तेजित कर सकते हैं -बशर्ते कि वह खुद आपके लिए उत्तेजक न हो। अंततः कम-से-कम बीस मिनट तक का स्टॉप-स्टार्ट एक्शन (रुकने और पुनः आरंभ करने की क्रिया) पूरा करें ताकि आपकी संगिनी को आप से थोड़ा पहले या एक साथ ही कामोन्माद को प्राप्त करने का अवसर मिल सके। जब आप यह जानकर सहज महसूस करते हैं कि आपकी अंतिम विन्दु कहां है, तो आप बिना रुके उस क्षेत्र में तेजी से भी पहुँच सकते हैं। आपके लिए “edging” का एक अतिरिक्त बोनस भी है: संभोग की अपनी चरम सीमा तक देरी से पहुंचना आपके कामोन्माद को उतना ही अधिक शक्तिशाली भी बना देगा। इस बारे में और अधिक जानकारी के लिए जानें: एक मजबूत लिंगोत्थान और एक अद्भुत कामोन्माद के 11 रहस्य

FREE Fast Shipping offer for our readers:

  • पहले और दूसरे सप्ताह में:
    कड़ापन लम्बे समय के लिए कठोर बन जाता है, लिंग की संवेदनशीलता २ गुना तक बढ़ जाती है. परिणाम नज़र आने लगते हैं – क्योंकि आपके लिंग का आकार १.५ सेमी. तक बढ़ चुका होता है.1
  • दूसरे और तीसरे सप्ताह में:
    पहले से आपके लिंग में आकार वृद्धि दर्शित होने लगती है, यह संरचनात्मक रूप से एकदम सटीक बन जाता है. सम्भोग का समय ७०% तक बढ़ जाता है!2
  • चौथे सप्ताह में और उससे आगे:
    लिंग ४ सेमी. तक बढ़ जाता है! सम्भोग का आनंद पहले से और भी अच्छा हो जाता है. ओर्गेज़्म लम्बे समय के होते हैं जो कि ५-७ मिनट तक चलते हैं!

अपने kegel व्यायाम करें।

हंसें नहीं। यह स्खलन नियंत्रण में मदद के लिए प्युबोकॉक्सिजियस मांसपेशी को मजबूत करने के उद्देश्य से की जाने वाले सबसे अच्छी विधि है जिसे आमतौर पर kegel व्यायाम (श्रोणि की मांसपेशियों का बार बार संकुचन जो पेशाब के प्रवाह को नियंत्रित करके इन मांसपेशियों को मजबूत करते हैं और विशेष रूप से असंयम को नियंत्रित करने या रोकने के अलावा संभोग के दौरान यौन संवेदनशीलता को बढ़ाते हैं) के रूप में जाना जाता है। इन मांसपेशियों को ढूंढने का सबसे आसान तरीका यह है कि आप पेशाब करते समय अपने पेशाब के प्रवाह को बीच में ही रोक लें। आप ऐसा करने के लिए पीसी की मांसपेशियों (PC muscles) का उपयोग कर रहे हैं! केजेल्स करने के लिए, दस सेकंड तक जल्दी-जल्दी अपनी पीसी की मांसपेशियों को बार-बार संकुचित करें और छोड़ें। दस सेकंड के ब्रेक के साथ ऐसा तीन बार करें। जब आप एक अच्छी दिनचर्या में हों, तो आप यौन संबंध बनाने के दौरान अपने नए कौशल को किसी भी वक्त शुरू कर सकते हैं।

जब आप कामोन्माद के करीब होते हैं तो अपने पीसी की मांसपेशियों को संकुचित कर लें, और जब तक आप (और वह) तैयार न हों तब तक आपको कामोन्माद की सीमा से पहले खुद को रोके रखने में सक्षम होना चाहिए।

संभोग मुख्य लक्ष्य नहीं होना चाहिए।

संभोग से पूर्व की क्रीड़ा। संभोग के अलावा की जाने वाली हर दुसरे तरह की यौन क्रीड़ा को दिया गया यह नाम स्पष्ट रूप से गलत है। चुंबन, मालिश, शरीर पर लिंग रगड़ना, हस्तचालित और मौखिक उत्तेजन को किसी अन्य मुख्य क्रिया के पूर्व किया जाना कोई जरूरी नहीं। वाह्य क्रीड़ा पर लौट आना- जो कि गैर-भेदक कामक्रीड़ा के लिए एक कम भ्रामक नाम है -सेक्स को कम नियमबद्ध करने और यौन कार्रवाई को धीमा करने का एक अच्छा तरीका है। लेकिन बात यहीं ख़त्म नहीं होती। लगभग 75 प्रतिशत महिलाऐं सिर्फ संभोग से ही कामोन्माद को नहीं प्राप्त कर पातीं, इसलिए अपने सेक्स सत्रों के बीच-बीच में उसे बिलकुल लम्पट बना देने वाली गतिविधियों को जोड़ते रहना एक संतुष्ट मुस्कान के साथ उसके धीरे-धीरे सो जाने की संभावना को बढ़ाने का एक सिद्ध तरीका है।

अप्रतिक्रियाशील अवधि का लाभ उठाएं।

एक बार वीर्यपात हो जाने के बाद पुनः अगली बार लिंगोत्थान को प्राप्त करने और उसे बनाए रखने में लगने वाले समय को ही एक पुरुष की अप्रतिक्रियाशील (अस्थायी रूप से गैर-प्रतिक्रियाशील या यौन उत्तेजन के प्रति पूरी तरह प्रतिक्रियाशील नहीं) अवधि कही जाती है। अध्ययनों से पता चला है कि 18 वर्षीय पुरुषों में लगभग 15 मिनट की अप्रतिक्रियाशील अवधि होती है, जबकि 70 के दशक वाले लोगों को लगभग 20 घंटे लगते हैं। (आम तौर पर सभी पुरुषों के लिए लगभग आधे घंटे का औसत है।) लिंग के बिलकुल सुस्त पड़ जाने का यह अवकाश एक पुरुष के लिए एक शानदार अवसर है जब वह अपनी संगिनी को प्रसन्न करने की ओर अपना ध्यान केन्द्रित कर सकता है। उसके लिंगोत्थान के लौटने का मतलब केवल एक दूसरे दौर की संभावना ही नहीं है, क्योंकि कई पुरुषों को संभोग की पुनरावृत्ति के दौरान कम संवेदनशीलता का अनुभव होता है, इसलिए ऐसे संभोग के लंबे समय तक चलने की संभावना रहती है।

दबाने की विधि का उपयोग करें।

शायद आपको मास्टर्स ऑफ सेक्स (Masters of Sex) नामक नाटक को देखने का मौका मिला हो। यह डॉ विलियम मास्टर्स और वर्जीनिया जॉनसन के जीवन और कार्य को दर्शाता है: इस दो व्यक्तियों की शोध टीम ने 1957 से लेकर 1990 तक मानव यौन प्रतिक्रिया की प्रकृति और यौन अक्षमताओं और विकारों के निदान और उपचार की खोज की। उनकी विरासत का एक हिस्सा दबाने की तकनीक द्वारा वीर्यपात में देरी करने और संभोग-काल की लंबाई को बढ़ाने का नुस्खा था। उन्होंने महिलाओं को अपने पुरुष साथी के लिंग की सुपारी के चारों ओर अंगूठे, तर्जनी और मध्यमा उंगलियों को रखने के लिए कहा, और उस पुरुष के वीर्यपात की बिलकुल अवश्यम्भावी अवस्था से ठीक पहले उसे जोर से तब तक दबाकर रखने को कहा जब तक की उसकी वह भावना पूरी तरह से समाप्त न हो जाए और उसका शरीर तनावमुक्त न हो जाए। तत्पश्चात दबाव को धीरे-धीरे हटा लेने की सलाह दी। इसे आजमाकर देखें। जबकि पुरुष अपने लिंगोत्थान को कुछ या काफी अंश में खो देगा, वह उसे जल्दी ही वापस पाने और यौन उपभोग को पुनः शुरू करने में सक्षम भी हो जाएगा (जाना चाहिए)।

कन्डोम का प्रयोग करें।

सही ढंग से उपयोग किये जाने पर कंडोम गर्भ धारण और यौन संक्रमित रोगों से प्रभावित हो जाने के अवसरों को कम करने का एक प्रभावी साधन है। ये कंडोम लिंग की संवेदनशीलता को कम करने के लिए भी बहुत अच्छे हैं, जिसका मतलब है कि इसे पहन लेना STI से संक्रमित होने या गर्भधारण की चिंता से परे -सेक्स को लंबे समय तक बनाये रखने का एक शानदार तरीका हो सकता है। यदि आप संवेदनशीलता को कम करने के लिए एक मोटे कंडोम की तलाश में बाजार को पहुंचे हैं, तो Lifestyles Extra Strength को आजमाएं।

सेक्स से पहले हस्तमैथुन करें।

कुछ पुरुषों के लिए, सेक्स से एक या दो घंटे पहले अंतिम अंजाम तक हस्तमैथुन कर लेना मुख्य कार्यक्रम को लम्बे समय तक जारी रखने में उन्हें सक्षम बना सकता है। दरअसल, सेक्स को लम्बा खींचने की इस तकनीक को फिल्म समथिंग अबाउट मैरी में खोजा गया था, हालांकि उस चित्रण में बेन स्टिलर का सेक्स पूर्व का विलास केवल हास्यजनक परिणाम ही दे पाया था।

विराम लीजिये।

बशर्ते आपके ऊपर अपॉइंटमेंट आदि का कोई दबाव न हो, आपके सत्र के दौरान बीच-बीच में ब्रेक लेते रहना सेक्स को धीमा करने, उन बेहतरीन पलों के सुख का आस्वादन करने और अपनी पारस्परिक संतुष्टि को बढ़ाने का एक आसान और प्रभावी तरीका है। जब ऐसा महसूस हो कि आपका आनंदानुभव समय से पूर्व ही अपने अंतिम निष्कर्ष की ओर बढ़ रहा है, तो रुक जाएं और संभोग-काल को बढ़ाने के लिए कुछ अन्य क्रियाएँ करें। चुंबन, आलिंगन, मालिश आदि जैसी सनसनी को बढ़ाने वाली क्रीड़ाओं में वापस लौटें, या और भी बेहतर हो यदि अपने कमर में लगी इस आग को आप कुछ ऐसी क्रिया में रूपांतरित करें जिसके लिए आपकी संगिनी बिलकुल लम्पट ही हो जाय।

दवाएं लें।

सिल्डेनाफिल (जिसे ज्यादातर लोग इसके ब्रांड, वियाग्रा के नाम से ही जानते हैं) का उद्देश्य लिंगोत्थान की गड़बड़ी वाले पुरुषों की लिंगोत्थान कराने और उसे बनाए रखने में मदद करना है; और बहुत से लिंगोत्थान की गड़बड़ी के पीड़ितों के लिए यह बिलकुल यही करता है। लेकिन अध्ययनों से पता चला है कि सिल्डेनाफिल किसी के लिंग में वीर्य भरने से भी कहीं ज्यादा कुछ करता है। 2007 के एक अध्ययन से पता चला कि सिल्डेनाफिल समयपूर्व स्खलन का इलाज करने के लिए एक बहुत ही प्रभावी और सुरक्षित साधन है, जबकि 2000 के आरंभ में प्रकाशित दुसरे शोध में पाया गया कि सिल्डेनाफिल ने लगभग 32 वर्ष के पुरुषों की अप्रतिक्रियाशिलता (अस्थायी रूप से यौन उत्तेजना के प्रति पूरी तरह से प्रतिक्रियाशील नहीं होने) की अवधि को औसतन 11 मिनट तक कम कर दिया था। संयुक्त राज्य अमेरिका में सिल्डेनाफिल केवल किसी प्रतिष्ठित डॉक्टर द्वारा लिखित नुस्खे पर ही उपलब्ध है, जबकि ग्रेटब्रिटेन में दवा नियामकों ने 2018 से वियाग्रा की लिखित नुस्खे के बगैर की बिक्री को मंजूरी दे दी है।

आँखों के संपर्क को बढ़ाएं।

अपनी संगिनी के साथ आंखों का संपर्क स्थापित करना वास्तविक यौन प्रतिक्रिया प्राप्त करने का एक तरीका है और इसका उपयोग तुल्यकालिक संकेत के रूप में किया जा सकता है। यह आपसी सम्मान,समझ और रुचि का संकेत भी है, इसलिए इसके द्वारा सेक्स को न केवल लंबे समय तक खींचा जा सकता है बल्कि उसे आपके और आपकी संगिनी के लिए बेहतर भी बनाया जा सकता है। जानबूझकर आंखों में आंखें डालकर देखने के लिए कुछ क्षण निकालें और उस पारस्परिक दृष्टि या कामुक सगाई में जमें रहें। और कुछ नहीं तो कम से कम यह आंखों का संपर्क आपके संभोग-काल को कुछ हद तक तो बढ़ा ही देगा। जबकि आप ऐसा भी पा सकते हैं कि यह आपको अपनी संगिनी के साथ और भी सार्थक तरीके से जुड़ने में मदद करता है।

अपने पार्टनर से बात करें।

अगर संभोग-काल आपके और आपकी संगिनी की नजर में ज़रूरत से कम है, तो इसके बारे में आपस में बात करें। यह बातचीत आप उसे अपने इरादे से अवगत कराकर शुरू कर सकते हैं। कुछ ऐसा कहें: “मुझे सेक्स बहुत ही प्यारा लगता है, और मैं इसे लंबे समय तक चलाना चाहता हूं।” आप इस स्थिति को तारीफ के रूप में भी पेश कर सकते हैं: “जब हम बिस्तर में साथ होते हैं तो मैं इतना अधिक बहक जाता हूं कि नियंत्रण नहीं खोना मुश्किल हो जाता है।” आप पाएंगे कि समस्या को नज़रन्दाज करने के बजाय उसके बारे में बात कर लेने पर अगली बार के मिलन के दौरान इसका तात्कालिक प्रभाव आपको दिख सकता है। उस मुकाम से, आप उपरोक्त सूचीबद्ध विषयों को शामिल करने के बारे में बात करके लंबे समय तक सेक्स को जारी रखने में अपनी संगिनी की मदद को प्राप्त कर सकते हैं। “आज रात को मैं वास्तव में आंखों का संपर्क अधिक करना / बीच-बीच में ब्रेक लेना / दबाने की विधि का उपयोग करना / वाह्य कामक्रीड़ा पर अधिक जोर देना चाहता हूं इत्यादि।”

किसी पेशेवर डॉक्टर से बात करें।

यदि उपर्युक्त सभी उपायों को आजमाने के बाद भी संभोग-काल आप और आपकी संगिनी के चाहे अनुसार पर्याप्त रूप से लंबा न हो, तो यह उचित समय है जब आपको एक चिकित्सक से एक व्यक्ति या एक जोड़े के रूप में परामर्श कर लेना चाहिए। कई यौन अक्षमताएं शरीर विज्ञान के बजाए मनोविज्ञान में निहित हैं, और यह बात विशेष रूप से समयपूर्व स्खलन के बारे में तो सच ही है। जापानी मनोवैज्ञानिक अनुसंधान में प्रकाशित एक 2013 के अध्ययन ने ऐसे 15 शीघ्रपतन के पीड़ितों पर शोध किया जिन्होंने आठ से बारह सत्रों की चिकित्सा पाई थी, और पाया कि उस चिकित्सा के फलस्वरूप हुए परिवर्तन कुछ ऐसे थे जो “सुधार की रुझान के साथ सांख्यिकीय तौर पर महत्वपूर्ण थे।”

Xtra-man cream

Comments

(0 Comments)

Your email address will not be published. Required fields are marked *