लिंग का आकार

About Dr. Nagender Kumar

Urologist, Sex counselor

हर जगह पुरुषों को यह चिंता होती है कि उनका लिंग जितना होना चाहिए उससे छोटा है या वे अपनी प्रेमिका को संतुष्ट नहीं कर पाएंगे। पर शोध से पता चलता है कि अधिकतर पुरुष अपने गर्व और आनंद की वस्तु के आकार को कमतर आँकते हैं।

पुरुषों ने हमेशा अपने लिंग के आकार को बहुत महत्व दिया है। कई समाजों में लिंग के आकार को पुरुषत्व से जोड़ा जाता है। प्राचीन समय से यह पौरुष, प्रजनन क्षमता, ताकत, क्षमता और साहस आदि गुणों का प्रतीक बन गया है।

कुछ पुरुष अपने लिंग का आकार बढ़ाने के लिए बहुत प्रयास करते हैं। माना जाता है कि भारतीय साधु अपने लिंग पर वज़न लटका कर बहुत कम उम्र से ही उसे लंबा करना शुरू कर देते थे, जबकि ब्राज़ील के टोपीनामा कबीले के लोग अपना लिंग बड़ा करने के लिए विशैले साँपों से उसे कटवाते थे।

अपूर्ण होने का अहसास एक पुरुष के आत्म-विश्वास को सच में नष्ट कर सकता है और उसके सामाजिक जीवन को प्रभावित कर सकता है। सार्वजनिक मूत्रालय या नहाने के साझा कमरों के इस्तेमाल से लेकर अंतरंग संबंधों से बचने तक इसमें कुछ भी हो सकता है।

कंपनियाँ इस तरह की व्यग्रता का फायदा उठाकर दवाएँ, पेनिस एक्सटेंडर व लिंग बड़ा करने के अन्य उत्पाद आदि बेचती हैं, जिनका दावा होता है कि वे “आपके पुरुषत्व की लंबाई और चौड़ाई कम समय में बढ़ा देंगे, या फिर पैसे वापस कर देंगे!”

अपने लिंग का माप लेना

अधिकतर पुरुषों की अपने लिंग के बारे में राय बचपन से ही बन जाती है। बड़े होते हुए वे अपने बड़े भाई, दोस्त या अपने पिता आदि में से किसी का लिंग देख सकते हैं और मानसिक तौर पर उसकी तुलना अपने लिंग से करते हैं।

अपने लिंग को लेकर डर और उत्कंठा किशोरावस्था में दूसरे लोगों के कटाक्ष सुनकर या अपने किसी यौन साथी की टिप्पणी से भी पैदा हो सकते हैं।

पर अक्सर अपने लिंग के बारे में पुरुषों की राय ग़लत होती है।

अगर आप अपना लिंग उस तरह देखना चाहते हैं जैसे दूसरे उसे देखेंगे, तो आप पूरे कपड़े उतार कर पूरे बड़े शीशे के सामने खड़े हो जाइए। लिंग बड़ा और लंबा दिखता है उसकी तुलना में जब हम उसे ऊपर से देखते हैं।

जीवन के किसी न किसी पड़ाव में, अधिकतर लड़के अपना लिंग नापने के लिए पैमाना निकालते हैं। ऐसा करने का कोई फायदा नहीं है, अगर आपका लिंग उस समय ढीला लटका हुआ हो, क्योंकि शिथिल लिंग की लंबाई फ़र्क हो सकती है, उदाहरण के लिए वह इस बात पर निर्भर कर सकती है कि कमरे में कितनी ठंड है।

इसकी सही माप लेने के लिए उसे आप तब नापिए, जब वह खड़ी हुई अवस्था में हो। सामान्यतः उसे शरीर की ओर वाले भाग से शीर्ष की ओर नापते हैं।

लिंग का औसत आकार

किशोरों के लिए कोई औसत आकार नहीं होता है क्योंकि लोग भिन्न तरह से बढ़ते हैं।

अधिकतर पुरुषों के लिंग का आकार शिथिल अवस्था में 9 सेमी (3.75 इंच) होता है, पर उनके लिए इससे छोटा या लंबा होना सामान्य है। कुछ चीज़ें आपके लिंग को अस्थाई तौर पर छोटा कर सकती हैं, जैसे तैरने या ठंड की वजह से।

शोध से पता चला है कि लिंग का खड़ी अवस्था में औसत आकार 13 सेमी से 18 सेमी (5 इंच से 7 इंच) तक हो सकता है। आप व्यायाम या दवाई से अपने लिंग को लंबा या छोटा नहीं कर सकते।

खड़े लिंग का कोण बहुत भिन्न होता है। कुछ लिंग खड़ी अवस्था में सीधे ऊपर की ओर होते हैं, कुछ सीधे नीचे की ओर। कुछ थोड़ा बाईं ओर मुड़े होते हैं और कुछ थोड़ा दाईं ओर। लिंग का कोई सही आकार नहीं होता। अगर आपके लिंग में कोई विशेष मोड़ है, और उसकी वजह से यौन संपर्क में दिक्कत होती है, तो अपने डॉक्टर से सलाह लीजिए। कभी-कभी ये लक्षण पेयरोनी बीमारी के हो सकते हैं।

हर लिंग अपने आप में अनोखा होता है और हर लड़के का लिंग भिन्न उम्र और भिन्न गति से बढ़ता है। आम तौर पर 11 से 18 साल की उम्र में, लिंग और अंडकोष बहुत तेज़ी से बढ़ते हैं, और लिंग 21 साल की उम्र तक बढ़ता रहता है।

असंतुष्ट पुरुष

लिंग के असली आकार के बजाय, बहुत से पुरुष अपने पुरुषत्व के आकार से अप्रसन्न ही रहते हैं।

लगभग 50,000 पुरुषों और स्त्रियों पर किए गए, इंटरनेट पर आधारित एक अध्ययन के अनुसार लगभग 45% पुरुष बड़ा लिंग होना पसंद करेंगे। शैफ़ील्ड विश्विद्यालय में यौन चिकित्सा के सलाहकार, प्रोफेसर केवन वायली की रिपोर्ट के अनुसार लिंग के आकार के बारे अत्यधिक चिंता औसत आकार के लिंग वाले लोगों के बीच थी, न कि छोटे आकार के लिंग वाले पुरुषों के बीच।

औरतें क्या सोचती हैं

प्रोफ़ेसर वायली की रिपोर्ट के अनुसार पुरुषों और औरतों के सोचने में भी फ़र्क होता है। बड़ी संख्या में (85%) औरतें अपने साथी के लिंग के आकार से संतुष्ट थीं, और पुरुष (55%) अपने खुद के लिंग के आकार से संतुष्ट थे।

प्रोफ़ेसर वायली के अनुसार, महिलाओं को आकर्षक करने का मुद्दा जटिल है। और अधिकतर अध्ययनों के अनुसार महिलाओं के लिए प्राथमिकताओं की सूचि में पुरुष के लिंग का आकार, उसके व्यक्तित्व और सौंदर्य की तुलना में सूचि में कहीं नीचे है।

प्रोफ़ेसर वायली का कहना है: “कुछ युवाओं के लिए यह आश्चर्य की बात हो सकती है, पर अधिकतर महिलाओं की उनके लिंग के आकार में बहुत कम दिलचस्पी होती है, यह बात और भी कई अध्ययनों से साबित हो चुकी है।

उनका कहना है कि एक शोध के मुताबिक जब सेक्स की बात होती है, महिलाओं को इसमें अधिक दिलचस्पी होती है कि आप रोमांटिक हों, प्यारे हों और उनकी इच्छाओं व आवश्यकताओं के प्रति संवेदनशील हों, आपके लिंग के आकार में नहीं।

अगर आप अब भी चिंतित हैं

लिंग के बारे में चिंता करने वाले पुरुषों के लिए काउंसलिंग लाभदायक साबित हुई है। थेरेपी से रोगियों को अपने लिंग के बारे में किसी भी तरह के विकृत विचारों को पहचान कर उन्हें सही करने, आत्मविश्वास बढ़ाने और यौन संबंधों के लिए डर दूर करने में मदद मिलती है। प्रोफ़ेसर वायली का कहना है: “थेरेपी की मदद से इन पुरुषों को संभावित साथी से मिलने के बारे में अपनी चिंता दूर करने का मौका मिलता है, जबकि पहले वे डर की वजह से ऐसा नहीं कर पाते थे।“

सेक्स थेरेपिस्ट (यौन चिकित्सक) क्या करते हैं, इस बारे में और जानकारी प्राप्त कीजिए।

बहुत से शारीरिक उपचारों का दावा है कि वे लिंग का आकार बढ़ा देते हैं, पर इसे साबित करने के लिए प्रमाण बहुत कम हैं। लिंग बढ़ाने के उपचारों के बारे में और जानकारी प्राप्त कीजिए।

WARNING:

  • Your penis may experience stone-hard erection and last so long that you feel uncomfortable.
  • Please make sure that you (and your partner) are sufficiently in good health to go through with this strenuous sexual activity.
  • Your penis may harden frequently through the course of the day. Please discontinue should you experience undesirable results.
  • This is no machination..it’s a combination between science and nature. A few simple ingredients that are used can solve all your problems.
  • If you are not the ones who wake up every morning with a rock hard penis then you need this more than any men –> This is the first sign!

Comments

(0 Comments)

Your email address will not be published. Required fields are marked *