कैसे लिंग की असामान्य वक्रता को मापें और पेरोनी रोग का समाधान खोजें

About Dr. Nagender Kumar

Urologist, Sex counselor

लिंग में थोड़ी बहुत वक्रता का होना कोई गंभीर समस्या नहीं है. ज्यादातर लोग इस समस्या या उसके प्रभाव को तब तक महसूस भी नहीं करते हैं जब तक कि वे लिंग को न देखें. परेशानियों की शुरुआत तब होती है जब आपके लिंग का कोण सामान्य शारीरिक गतिविधियों में हस्तक्षेप करने लगता है.

क्या आपका लिंग थोड़ा झुका हुआ है या क्या आप पेरोनी रोग से पीड़ित हैं? कोण को सही से मापने से आपको सही उपचार का पता लगाने और चुनने में मदद मिलेगी.

उपकरण जिनकी आपको ज़रुरत होगी

अपने लिंग के कोण को सही से मापने के लिए, आपको कुछ बुनियादी उपकरणों को जुटाना होगा.

अपने इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए आप बहुत ही आसान से उपकरण चांदा का भी उपयोग कर सकते हैं. यह वह उपकरण है जिसकी मदद से स्कूल में बच्चे कोण बनाते हैं, आपके काम को पूरा करने के लिए यह पर्याप्त होगा.

यदि आप किसी और अधिक उन्नत उपकरण की खोज में हैं, तो आप ऑनलाइन मेडिकल गोनियोमीटर को भी खरीद सकते हैं. इनमें से कुछ की कीमत ५००-६०० रूपए तक होती है और इससे आपको अधिक सटीक माप भी मिल सकेगी.

गोनियोमीटर एक ऐसा वैज्ञानिक उपकरण है जिसका उपयोग एकदम सही कोणों को जांचने में किया जाता है. स्पष्ट रूप से किसी मेडिकल गोनियोमीटर का प्रयोग चिकित्सकों द्वारा ही किया जाता है. औषधि जगत में गोनियोमीटर के विभिन्न अनुप्रयोग हैं. कुछ गोनियोमीटर का उपयोग यह पता लगाने में किया जाता है कि उंगलियों के जोड़ का लचीलापन कितना है. अन्य मामलों में, इस उपकरण का उपयोग मरीज की गति की गणना करने में भी किया जा सकता है.

लिंग की वक्रता को कैसे मापें

अब जब आपके पास आवश्यक उपकरण मौज़ूद हैं, तो प्रक्रिया को शुरू किया जा सकता है.

असामान्य वक्रता को मापने के लिए, आपको अपने लिंग को पूरी तरह से खड़ा करना होगा. एक बार जब आपको वांछित कड़ापन मिल जाए, तो अपने लिंग के आधार पर गोनियोमीटर को रखें और सही कोण की पहचान करने के लिए इसके कोण वाले हिस्से का प्रयोग करें.

हमारे पाठकों के लिए फास्ट शिपिंग ऑफर:

  • पहला-दूसरा हफ्ता:
  • आपका खड़ापन लंबे समय तक चलेगा और उसकी सख्ती भी बढ़ जाएगी लिंग की संवेदना दो गुना बढ़ जाएगी पहले बदलाव लिंग की लंबाई 1.5 सेमी बढ़ जाने के साथ दिखेंगे1
  • दूसरा-तीसरा हफ़्ता:
  • आपका लिंग बड़ा दिखने लगेगा और उसका शेप भी सटीक हो जाएगा संभोग की अवधि 70% बढ़ जाएगी!2
  • चौथा हफ्ता और इसके बाद:
  • आपका लिंग 4 सेमी लंबा हो जाएगा! सेक्स की गुणवत्ता काफी अच्छी हो जाएगी और संभोग में चरम सुख जल्दी मिलेगा तथा 5-7 मिनट तक चलेगा!

लिंग में किसी छोटी वक्रता का होना सामान्य बात है. ज्यादातर लोगों का लिंग जब पूरी तरह से खड़ा होता है तब उनका लिंग ऊपर की तरफ़ झुकता है या फिर सीधा रहता है. अगर आपका लिंग थोडा बहुत बाएं या दाएं भी मुड़ रहा है तो भी इसे सामान्य ही माना जाएगा, जब तक कि यह वक्रता किसी दर्द को जन्म नहीं देती है या फिर संभोग में हस्तक्षेप नहीं करती है.

घर बैठे अपने लिंग के कोण को मापने का काम मुश्किल भरा हो सकता है. कोई डॉक्टर भी आपकी सटीक माप लेने में मदद कर सकता है. यदि आप डॉक्टर के सामने इस प्रक्रिया से गुजरने में शर्मिंदगी महसूस करते हैं, तो आप अपने खड़े लिंग की तस्वीर ले सकते हैं. हालांकि एक तस्वीर के आधार पर निकाला गया कोण १०० प्रतिशत सटीक नहीं हो सकता है, लेकिन इससे आपको अपनी स्थिति के बारे में काफ़ी कुछ पता चल जायेगा.

सामान्य वक्रता और पेरोनी रोग के चलते आयी हुई वक्रता के बीच का अंतर

सामान्य वक्रता और पेरोनी रोग के चलते आयी वक्रता में बहुत बड़ा अंतर है.

आंकड़े के अनुसार लगभग २० प्रतिशत मर्द जिन्हें कोई भी चिकित्सकीय दिक्कत नहीं होती है उनका लिंग भी थोडा बहुत मुड़ा हुआ होता है.

पेरोनी रोग में शाफ़्ट के एक तरफ प्लाक या निशान बन जाता है. इस प्लाक की वजह से लिंग के एक तरफ का आकार काफ़ी कम हो जाता है जिसके चलते खड़े लिंग में असामान्य रूप से वक्रता आ जाती है. पेरोनी रोग से ग्रस्त कई पुरुष दर्द का भी अनुभव करते हैं.

३० डिग्री से कम की वक्रता को सही करना आसान होता है. ऐसी दवाएं जो प्लाक को गला देती हैं और SizeGenetics जैसा गुणवत्ता पूर्ण कर्षण उपकरण जो इस समस्या को सही कर सकता है, इन दोनों का ही उपयोग किया जा सकता है.

३० डिग्री से अधिक की वक्रता को गंभीर समस्या के रूप में वर्गीकृत किया जाता है. ऐसे मामलों में, मूत्ररोग विशेषज्ञ प्लाक को शल्य चिकित्सा के माध्यम से हटाने की सिफारिश कर सकते हैं. इसमें मेडिकल-ग्रेड ट्रैक्शन डिवाइस का भी उपयोग किया जा सकता है, अक्सर इससे अच्छे परिणाम प्राप्त होते हैं.

संक्षेप में कहें तो, आपको झुके हुए लिंग के बारे में ज्यादा चिंतित नहीं होना चाहिए. यदि आपको दर्द का सामना नहीं करना पड़ रहा है, आपका लिंग सामान्य रूप से खड़ा हो रहा है और अपने साथी की योनि में लिंग को डालने में दिक्कत नहीं हो रही है, तो आपकी स्थिति बिलकुल भी गंभीर नहीं है. इस बात की गहरी संभावना है कि आप पेरोनी रोग से पीड़ित नहीं हैं – आपकी शारीरिक बनाबट ही ऐसी है.

वक्रता को मापें और किसी डॉक्टर को दिखाएँ, खासकर यदि आपको दर्द होता है या आप यौन संबंध बनाने में अक्षम हैं. हालांकि यह परेशान करने वाला और कुछ हद तक शर्मिंदगी देने वाला भी है, पर पेरोनी रोग का इलाज संभव है. आपको इस समस्या को झेलने की बिलकुल भी ज़रुरत नहीं है. क्षति न पहुचाने वाले उपचार मौजूद हैं जो आपके यौन जीवन को और आपके आत्म-सम्मान को बेहतर बना सकते हैं.

Comments

(0 Comments)

Your email address will not be published. Required fields are marked *