त्वचा को खुबसूरत और जवां रखने के १५ प्राकृतिक तरीके

भले ही जवानी की नदी न बहती हो पर हमारे द्वारा सेवन किये जाने वाले आहार और हमारे खुद के प्रति व्यवहार से उम्र ढलने में बचाव यहाँ तक कि रुकाव भी किया जा सकता है. नुकसान से लड़ने के लिए आपके शरीर को सही पोषकों की आवश्यकता होती है और इस मामले में आपकी त्वचा अपवाद नहीं है. पोषक तत्व कोशिकाओं के परिवर्धन तथा और अधिक ऊर्जा लेने में सहायता करते हैं. परिष्कृत आहार, तनाव, टोक्सिंस तथा कम पोषक तत्वों वाले आहार उम्र ढलने की दर बढ़ा देते हैं. पर्याप्त नींद लेते हुए, आराम तथा कसरत करते हुए खुद को हानिकारक रसायनों से बचाने से आपको एक स्वास्थ्यप्रद चमक रखने में सहायता मिलेगी.

ढेर सारा पानी पीजिये.

शरीर में पानी की थोड़ी सी भी कमी होने पर आपके शरीर की क्रियाविधि कम उचित तरीके से होती है. जिस क्षण आपके शरीर में पानी की कमी होती है इसका असर आपकी त्वचा पर पड़ने लगता है, जिससे त्वचा दबी-दबी, बेरंग, लटकी और ढीली नज़र आने लगती है.

एंटीऑक्सिडेंट्स वाला खाना खाइए.

क्षति तथा सूजन कम करके बीमारियों तथा उम्र ढलने से बचाने के लिए आपके लिए एंटीऑक्सिडेंट्स सर्वश्रेष्ठ स्रोत्र हैं. सूजन झुर्रियों के बनने का मुख्य कारण है. एंटीऑक्सिडेंट्स के कुछ सर्वश्रेष्ठ स्रोतों में शामिल हैं.

  • ब्लूबेरीज
  • अनार
  • अकाई बेरीज
  • गोजी बेरीज
  • पालक
  • रास्पबेरी
  • मेवे
  • बीज
  • बैंगनी अंगूर
  • डार्क चॉकलेट (70% या उच्च कोको सामग्री)
  • कार्बनिक हरी चाय

इन्द्रधनुषी रंगों वाले खाद्यों से अपनी प्लेट को भरा रखिये.

हमारे शरीर में मुक्त कण हमारी कोशिकीय संरचना को बहुत क्षति पहुंचाते हैं. हमारे द्वारा खाए जाने वाले विविध पोषक तत्वों से समृद्ध अहारों से वे बेअसर हो जाते हैं. विभिन्न प्रकार के मुक्त कणों से लड़ने के लिए आपको विभिन्न प्रकार के एंटीऑक्सिडेंट्स वाले आहार का सेवन करना पड़ता है. दिमाग में रखिये कि दिन में आपने कौन-कौन रंग का खाद्य छोड़ा है और अपने अगले आहार में उन खाद्यों को शामिल करने की कोशिश कीजिये.

ऑर्गेनिक आहार खाइए.

यह उम्र बढ़ाने वाले विषाक्त पदार्थों की खपत को घटा देता है.

सूर्य से संपर्क घटाइए.

नियमित रूप से थोडा सा सूर्य से संपर्क त्वचा में विटामिन डी की खपत के लिए फ़ायदेमंद होता है पर बहुत अधिक संपर्क से त्वचा को हानि पहुंचती है. धूप के चश्मे पहनना मत भूलिए, और जिंक अथवा टाइटेनियम डाईऑक्साइड सनस्क्रीन इस्तेमाल कीजिये.

FREE Fast Shipping offer for our readers:

उनकी त्वचा की चमक का राज़ उनके द्वारा घर पर बनायी एक ख़ास में क्रीम में छुपा हुआ था जिसमे वे कुछ सामान्य घटकों का प्रयोग करती थी: कुमारी, गोजी बेर, तुलसी, मुलेठी, ऑरेंज, आलमंड, वालनट, खीर, गुलाब, चन्दन – इन सभी घटकों को भलीभांति पीसा और मिलाया जाता है. ये सभी घटक गोजी के असर को और भी बढ़ा देते हैं जो कि त्वचा के कायाकल्प के लिए बहुत ही प्रसिद्द है और त्वचा की रंगत बरक़रार रहती है.

ऑर्डर करें!

प्राकृतिक त्वचा देखभाल वाले उत्पादों का सेवन शुरू कीजिये.

बहुत सारे त्वचा देखभाल उत्पादों में हानिकारक रसायन होते हैं. मेकअप अथवा मॉइस्चराइजर का चयन करने के समय उनके घटकों की जांच पड़ताल कीजिये जिससे कि आप एकदम सुनिश्चित हो पाएँ कि वे सुरक्षित हैं.

नॉन-टॉक्सिक सफाई वाले उत्पादों को प्रयोग कीजिये.

त्वचा से हानिकारक रसायनों के संपर्क को नियंत्रित करना बहुत जरुरी है क्योंकि त्वचा उनका अवशोषण कर लेती है.

एक पौधा आस-पास रखिये.

घर के प्रदूषण का स्तर बाहर के प्रदूषण से भी ज्यादा हो सकता है. घर पर या काम करने की जगह पर डेस्क पर एक पौधा एयर फ़िल्टर की तरह कार्य करेगा.

पर्याप्त विटामिन सी का सेवन कीजिये.

विटामिन सी से समृद्ध आहार से कम झुर्रियां होती हैं. शोधकर्ताओं ने ऐसा पाया है कि लम्बे समय तक विटामिन सी के संपर्क वाली त्वचा में आठ गुना तक अधिक कोलेजन का उत्पादन हो सकता है.

चीनी से बचिए.

इससे कोलेजन तथा इलास्टिन को हानि होती है जिससे झुर्रियां होती हैं.

स्वास्थ्यप्रद वसा का सेवन कीजिये.

एवोकाडो, जैतून तेल, फ्लैक्स बीज, मेवे तथा मछली को अपने भोजन में शामिल करना बहुत आवश्यक है. आपकी त्वचा के सुन्दर दिखने के लिए फैटी एसिड्स बहुत आवश्यक होते हैं.

अपने शरीर का शोधन कीजिये.

शरीर में हवा, जल तथा खाने की वज़ह से इकट्ठे हुए टोक्सिंस की वज़ह से शरीर को नुकसान पहुँचता है और उम्र बढ़ने लगती है. ऊर्जा उत्पादन पर केन्द्रीकरण तथा टोक्सिंस को शरीर से निकालने के लिए जूस के माध्यम से शारीर को डेटोक्स करने की सलाह दी जाती है. सुबह सबसे पहले एक नींबू निचोड़ कर एक ग्लास पानी पीना भी शोधन के लिए बहुत अच्छा है.

तनाव कम करने वाली क्रियाओं में लगिए.

उच्च स्तर के तनाव का असर आपकी त्वचा पर पड़ता है. योग अथवा ध्यान करना शुरू कीजिये. अपने जीवन से समस्या के मूल स्वरुप लोगों तथा क्रियाओं को फेंक बाहर करिए. अपने दोस्तों पर भरोसा रखिये और अपनी चिंताओं या परेशानियों के बारे में उनसे खुल कर बात कीजिये.

सोइए.

आपकी त्वचा अधिकांशतः कायाकल्प तथा क्षतिपूर्ति तब करती है जब आप सो रहे होते हैं. सुनिश्चित कीजिये कि आप रात में न केवल आठ घंटे सोते हैं बल्कि वो उच्च गुणवत्ता की नींद होती है.

कसरत.

ये ऑक्सीजन तथा पोषक तत्वों का प्रवाह बढ़ा देती है और पसीने के माध्यम से टोक्सिंज का उत्सर्जन करती है, जिससे त्वचा और भी अधिक साफ़ और दृण हो जाती है. हँसना मत भूलिए. ये आपके चेहरे के लिए सर्वश्रेष्ठ कसरत है.

 

Comments

(0 Comments)

Your email address will not be published. Required fields are marked *