स्खलन के समय को कैसे बढ़ाया जाए?

चुदाई के समय को कैसे बढ़ाया जाए? दुनिया में बहुत अच्छी सेक्स लाइफ को दर्शाने वाले कई लोग समय से पहले ही पानी निकल जाने की समस्या से पीड़ित हैं. इसके अलावा, ऐसी समस्या किसी पुरुष के आत्मविश्वास को प्रभावित कर सकती है. दुर्भाग्यवश, ऐसी समस्याओं से लंबे समय तक कोई व्यक्ति अवसाद और तनाव से घिर सकता है. हालांकि, विभिन्न तरीके और युक्तियाँ मौजूद हैं, जो आपकी समस्या को सही करने में मदद करेंगे कि कैसे समय से पहले पानी को निकलने से रोका जाए और चुदाई के समय को बढ़ाया जाए.

इस लेख में:

  • पानी को देर तक कैसे रोका जाए: क्या हमें यह करना चाहिए?
  • चुदाई का समय किससे निर्धारित होता है?
  • स्खलन को कैसे लम्बे समय तक रोका जाए: सामान्य जुगाड़ें;
  • शीघ्रपतन के प्राकृतिक उपचार;
  • जल्दी स्खलन को रोकने के लिए गोलियां

पानी को देर तक कैसे रोका जाए: क्या हमें यह करना चाहिए?

कुछ लोगों का मानना है कि आपको ‘चुदाई के समय को बढ़ाने के लिए पानी को कैसे देरी से छोड़ते हैं’ यह सीखना होगा. हां, यह संभव है, यह विधि कुछ मामलों में प्रभावी होगी, लेकिन इस पद्धति का उपयोग करने से पहले, सभी संभावित नकारात्मक परिणामों को जान लेना भी ज़रूरी है. सेक्सोलॉजिस्ट से जो लोग सलाह लेने के लिए आते हैं, उनकी मुख्य समस्या होती है – आत्मविश्वास की कमी.

रोगी इस बात की शिकायत करते हैं कि वे अश्लील फिल्मों के एक्टर्स की तरह सेक्स नहीं कर पाते हैं. वास्तव में, ऐसी फिल्मों में दिखाई जाने वाली चुदाई का समय बेहद कम होता है. और असल ज़िन्दगी में वैसा होना बहुत ही मुश्किल है. उतनी देर तक लगातार चुदाई करना कोई बंधा हुआ नियम नहीं है, बल्कि एक अपवाद है. चुदाई की औसत अवधि ७ मिनट होती है.

यह महिलाओं और पुरुषों दोनों के लिए पर्याप्त है. कई साक्षात्कार देने वाली महिलाओं ने लंबे समय तक चलने वाली चुदाई को उबाऊ भी माना.

यदि आपको फिर भी अपनी चुदाई का समय पसंद नहीं है, तो आप पानी को देर तक रोकने के लिए विभिन्न तकनीकों का उपयोग कर सकते हैं.

Closeup side view of late 20’s couple making love in their bedroom while spending weekend in a hotel. They are just hugging and kissing at the moment

चुदाई का समय किससे निर्धारित होता है?

शीघ्रपतन की समस्या को समाप्त करने से पहले, यह समझना बहुत आवश्यक है कि मर्दों के शरीर की प्रक्रियाओं को क्या प्रभावित करता है.

  • सबसे पहले तो, साथी की उम्र से संभोग की अवधि प्रभावित होती है. आंकड़ों के मुताबिक, संभोग की अवधि ३० साल तक धीरे-धीरे बढ़ती है. और ४० वर्ष की आयु के बाद, अवधि घटने लगती है;
  • इसके अलावा यौन जीवन में लय का होना एक महत्वपूर्ण कारक है. इसमें नियमित रूप से सेक्स और हस्तमैथुन शामिल है. कुछ विशेषज्ञ मानते हैं कि नियमित रूप से यौन जीवन पर ध्यान देने से यौन संभोग का समय बढ़ता है. प्रत्येक अगली चुदाई पिछली चुदाई की तुलना में थोडी ज्यादा देर तक चलेगी. वहीं, लंबे समय तक सेक्स से दूरी रखने पर पानी जल्दी छूटने लगता है;
  • उत्तेजना का समय भी चुदाई के समय को प्रभावित करता है. उत्तेजना का समय जितना कम होगा, चुदाई उतनी ही देर तक चलेगी;
  • एक अन्य महत्वपूर्ण बिंदु – चुदाई का समय कम होगा, यदि आपका यौन साथी दिखने में बहुत ही आकर्षक और सेक्सी है. यह पूरी तरह से सामान्य प्राकृतिक प्रक्रिया है.


स्खलन को कैसे लम्बे समय तक रोका जाए: सामान्य जुगाड़ें

यदि आप नहीं जानते कि चुदाई के समय को कैसे बढ़ाया जाए, तो निम्न सलाहों को माने. ये जुगाड़े आपकी अपने आप को नियंत्रित करने मदद करेंगी जिससे आप मैदान में लम्बे समय तक टिके रहेंगे:

  • खेल में समय दें. यदि आप अपने आप को स्वस्थ रखते हैं, तो आपमें अधिक आत्मविश्वास होता है, और इसके अतिरिक्त, खेलों की गतिविधि से आपका यौन तनाव कम होता है. यहां तक कि अगर आप हर दिन जिम में ज्यादा समय नहीं व्यतीत कर सकते हैं, तो रोजमर्रा की ज़िन्दगी से कम से कम व्यायाम के लिए आधे घंटे समय अवश्य निकालें. पुरुष कीगल अभ्यास पर ध्यान दें. इस अभ्यास से मांसपेशियों को काफी मजबूती मिलती है, जिसके परिणामस्वरूप, आप अपने शरीर पर बेहतर नियंत्रण रख पाते हैं. दैनिक दिनचर्या की उपेक्षा न करें. सामान्य व्यायाम भी घर पर करते रहें;
  • आप चुदाई के आसन को बदलकर चुदाई के समय को बढ़ा सकते हैं. चुदाई के समय आप अपना ध्यान भटका सकते हैं, चुदाई की प्रक्रिया पर ध्यान न देकर इधर उधर भी ध्यान दे सकते हैं. इससे भी आपकी यौन उत्तेजना कम होगी;
  • आप चुदाई के समय को बढ़ाने के लिए प्रसिद्ध ताओवादी तकनीक का उपयोग कर सकते हैं : जैसे ही आपको लगे कि आपका पानी निकलने वाला है, तो अपने लंड को तेज़ी से २ बार झटकें, और इसके बाद अपनी साथी की चूत में हल्के से गहराई तक घुसा दें.

शीघ्रपतन के प्राकृतिक उपचार

यदि आपको जल्दी पानी निकलने की समस्या के लिए पारंपरिक चिकित्सा पद्धतियां पसंद हैं, तो आप इन सुझावों का लाभ उठा सकते हैं. लंड की संवेदनशीलता कम करने के लिए, आप मेन्थॉल या पेपरमिंट का उपयोग कर सकते हैं – प्राकृतिक एनेस्थेटिक्स

● हर कोई जानता है कि रास्पबेरी और किशमिश के पत्तों से बनी चाय आम सर्दी को हरा सकती है. हालांकि, इस पेय में एक और जादुई गुण होता है. इन पौधों की पत्तियों में निहित फेलियमिन लिंग की संवेदनशीलता को कम कर सकता है और पानी को काफी देर तक रोकने में मदद कर सकता है.
● ऐसा ही समान प्रभाव ब्लू कॉर्नफ्लॉवर के काढ़े से प्राप्त किया जा सकता है. आपको एक चम्मच पंखुड़ियों की आवश्यकता होगी, जिसे एक ग्लास उबलते पानी में डालना चाहिए. १० मिनट तक प्रतीक्षा करें और चुदाई के आधे घंटे पहले इस पेय को पी लें.

हमारे पाठकों के लिए फास्ट शिपिंग ऑफर:

  • पहला-दूसरा हफ्ता:
  • आपका खड़ापन लंबे समय तक चलेगा और उसकी सख्ती भी बढ़ जाएगी लिंग की संवेदना दो गुना बढ़ जाएगी पहले बदलाव लिंग की लंबाई 1.5 सेमी बढ़ जाने के साथ दिखेंगे1
  • दूसरा-तीसरा हफ़्ता:
  • आपका लिंग बड़ा दिखने लगेगा और उसका शेप भी सटीक हो जाएगा संभोग की अवधि 70% बढ़ जाएगी!2
  • चौथा हफ्ता और इसके बाद:
  • आपका लिंग 4 सेमी लंबा हो जाएगा! सेक्स की गुणवत्ता काफी अच्छी हो जाएगी और संभोग में चरम सुख जल्दी मिलेगा तथा 5-7 मिनट तक चलेगा!

Comments

(0 Comments)

Your email address will not be published. Required fields are marked *

  • Lucknow
  • Indore
  • New Delhi
  • Ahmedabad
  • Jaipur
  • Pune
  • Patna
  • Agra
  • Mumbai
  • Chandigarh
  • Bengaluru
  • Kolkata
  • Hyderabad
  • Chennai
  • Guwahati
  • Bhopal
  • Sonipat
  • Shimla
  • Bhubaneswar
  • Coimbatore
  • Gurgaon
  • Ludhiana
  • Jammu
  • Durgapur
  • Rohtak
  • Panipat
  • Kochi
  • Kozhikode
  • Dehradun
  • Ghaziabad
  • Kanpur
  • Noida
  • Meerut
  • Siliguri
  • Anantapur
  • Jamshedpur
  • Surat
  • Vadodara
  • Srinagar
  • Belgaum
  • Shivamogga
  • Kota
  • Allahabad
  • Moradabad
  • Ranchi
  • Raipur
  • Bhilai
  • Kalyan
  • Thane
  • Navi Mumbai